Post Office PPF Yojana 2024: ₹90,000 जमा करने पर मिलेंगे ₹10,90,926 रूपये, सिर्फ इतने साल बाद Post Office PPF Yojana

Post Office PPF Yojana: पीपीएफ एक पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम है। आज के समय में हमारे पास बचत के कई विकल्प हैं। हालांकि, पीपीएफ स्कीम के फायदे दूसरी स्कीम की खूबियों से कहीं ज़्यादा हैं। पीपीएफ स्कीम लंबी अवधि के लिए निवेश का एक भरोसेमंद और सुरक्षित तरीका है। पीपीएफ स्कीम में ब्याज दर काफी अच्छी है।

Post Office PPF Yojana 2024

पीएफ स्कीम की शुरुआत नेशनल सेविंग इंस्टिट्यूट ने 1968 में की थी। पब्लिक प्रोविंड फंड स्कीम में कोई भी व्यक्ति 15 साल तक एक साल में अधिकतम 1.5 लाख रुपए जमा कर सकता है और 15 साल पूरे होने के बाद उसे करीब 40 लाख रुपए मिलेंगे। पीपीएफ अकाउंट में 1.5 लाख रुपए निवेश करने की बाध्यता नहीं है, कोई भी व्यक्ति 500 ​​रुपए से लेकर 1.5 लाख रुपए तक जमा कर सकता है।

Yojana Post Office PPF Yojana
Year 2024
Interest Rate7.1%
Duration 15 years
Minimum Amount500/-
Maximum Deposit Amount1.5 lakhs
AmountTax Free

NSP Scholarship 2024 Apply: सब विद्यार्थी को मिलेगा 75 हजार रूपए

PM Scholarship Scheme 2024-25: Amount 36,000/-

Tata Scholarship 2024-25: Tata Pankh Scholarship upto 1.5 lakh

पीपीएफ योजना की मुख्य विशेषताएँ 

पीपीएफ योजना के लाभ इस प्रकार हैं।

  • पीपीएफ खाते की अवधि 15 वर्ष है।
  • आवेदक 15 वर्ष पूरे होने के बाद 5 वर्ष की अवधि के लिए पीपीएफ की राशि बढ़ा सकते हैं।
  • पीपीएफ योजना पर ब्याज दर 7.1% है।
  • आवेदक डाकघर या अन्य बैंकों में पीपीएफ खाता खोल सकता है।
  • पीपीएफ खाते पर लोगों को लोन की सुविधा मिलेगी।
  • पीपीएफ खाता आपको गारंटीड रिटर्न देगा।
  • लोग खाता खोलने के 07 साल बाद आंशिक निकासी का विकल्प चुन सकते हैं।
  • पीपीएफ राशि पर आपको टैक्स लाभ मिलेगा।

न्यूनतम निवेश और अधिकतम सीमा 

पीपीएफ योजना कम आय से लेकर उच्च आय वाले लोगों को ध्यान में रखकर शुरू की गई थी। लोग पीपीएफ खाते में एक साल में 500 रुपये से लेकर 150000 रुपये तक की राशि निवेश कर सकते हैं। पीपीएफ में एक साल में 1.5 लाख से ज़्यादा की बचत की अनुमति नहीं है। छोटे से लेकर बड़े निवेशक अपनी कमाई और ज़रूरत के हिसाब से अपना पैसा निवेश कर सकते हैं।

कर लाभ और सुरक्षित निवेश 

पीपीएफ योजना EEE विकल्प में आती है जो छूट-छूट-छूट है। भारत सरकार पीपीएफ खाते में बचत को कर योग्य आय के अंतर्गत शामिल नहीं करती है। पीपीएफ राशि कर-मुक्त है, निवेशित धन, ब्याज धन और कुल धन पर कोई कर नहीं लगेगा। पीपीएफ योजना पर 80सी लागू होता है जिससे योजना कर-मुक्त हो जाती है।

लंबी अवधि में बेहतर रिटर्न 

अगर कोई व्यक्ति हर महीने 7500 रुपये का निवेश करता है और 15 साल तक हर महीने 7500 रुपये बचाता है तो उसने 1350000 रुपये का निवेश किया है। पीपीएफ की राशि पर ब्याज दर 7.1% है। इसलिए, 15वें साल के अंत में ब्याज दर के साथ कुल राशि 2440926 रुपये होगी। पीपीएफ योजना लंबे समय में बहुत फायदेमंद है।

खाता पुनः 

अगर आपका पीपीएफ खाता बंद हो गया है तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है, आप 500 रुपये जमा करके और 50 रुपये जुर्माना देकर पीपीएफ खाते को फिर से चालू करवा सकते हैं। इसके लिए अपने इलाके के पोस्ट ऑफिस में जाएं।

पीपीएफ योजना उन लोगों के लिए फायदेमंद है जो लंबे समय के लिए कुछ निवेश करना चाहते हैं। पीपीएफ योजना आकर्षक ब्याज दर के साथ आती है और यह पूरी तरह से सुरक्षित योजना है। व्यक्ति को अपनी वित्तीय स्थिति का मूल्यांकन करना चाहिए और फिर पीपीएफ योजना के लिए आवेदन करना चाहिए, आप पीपीएफ निवेश के बारे में वित्तीय विशेषज्ञ से भी सलाह ले सकते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Trending Topics 2024
Sarkari Yojana 2024 10th/12th नौकरी न्यूजs
Railway Jobs 2024 Police jobs 2024

Leave a Comment